लिरिक्स : नैनन मे पिचकारी दई Nainan Mein Pichakari Dai Lyrics

नैनन मे पिचकारी दई लिरिक्स

Singer - Shri Mridula Krishna Shastri

Lyrics Track - Nainan Mein Pichakari Dai





नैनन मे पिचकारी दई ,मोय गारी दई ,होरी खेली न जाय।



क्यों रे लंगर लंगराई मोते कीनी।
केशर कीच कपोलन दीनी।
लिए गुलाल ठाड़ो रहयो मुस्काये।
होरी खेली न जाय।
नैनन मे पिचकारी दई ,मोय गारी दई ,होरी खेली न जाय।



नैक न कान करत काहू की।
नजर बचावे भैया बलदाऊ की। पनघट सौं बतराय।
होरी खेली न जाय।
नैनन मे पिचकारी दई ,मोय गारी दई ,होरी खेली न जाय।





 होरी के दिनन मोते दूनौ दूनौ अटकै।
सालिगराम कोण जाहे हटकै।
अंग लिपटि हँसि हा -हा खाय।
होरी खेली न जाय।
नैनन मे पिचकारी दई ,मोय गारी दई ,होरी खेली न जाय।


0/Post a Comment/Comments

और नया पुराने