लिरिक्स : इस मतलब की दुनिया में Is Matlab Ki Duniya Me Lyrics

इस मतलब की दुनिया में कही मिलता सच्चा प्यार नहीं 

singer - raj pareek

Lyrics Track - Is Matlab Ki Duniya Me 




इस मतलब की दुनिया में,
कही मिलता सच्चा प्यार नही,
देख बनाकर श्याम को साथी,
इनसे सच्चा यार नही,
इस मतलब की दुनिया में। 



भले ही मूर्त बनकर बैठा,
पर है तेरे साथ खड़ा,
आये संकट जब भी तुझपर,
तुझसे पहले श्याम लड़ा,
लौटा हो मायूस कभी कोई,
ये ऐसा दरबार नहीं,
देख बनाकर श्याम को साथी,
इनसे सच्चा यार नहीं। 





जिसने शीश का दान दिया हो,
उनको तुम क्या परखोगे,
जो ना कृपा इनकी हो तो,
पानी को भी तरसोये,
मोह माय से रीझता हो ये,
ऐसा साहूकार नही,
देख बनाकर श्याम को साथी,
इनसे सच्चा यार नही। 



कहता राज की दुःख में अपना,
धीरज ना खोना प्यारे,
कही और न जाना तुम बस,
इनसे ही कहना प्यारे,
श्याम को जिसने जीत लिया,
कभी होती उसकी हार नही.
देख बनाकर श्याम को साथी,
इनसे सच्चा यार नही। 



इस मतलब की दुनिया में,
कही मिलता सच्चा प्यार नही,
देख बनाकर श्याम को साथी,
इनसे सच्चा यार नही,
इस मतलब की दुनिया में।


0/Post a Comment/Comments

और नया पुराने