लिरिक्स : बचपन से सुना हमने मालिक तू हमारा है Bachpan Se Suna Hamne Malik Tu Hamara Hai Lyrics

बचपन से सुना हमने मालिक तू हमारा है

Singer - Raj Pareek

Lyrics Track - Bachpan Se Suna Hamne Malik Tu Hamara Hai 





बचपन से सुना हमने,
मालिक तू हमारा है,
घर पे आई मुशीबत तो,
दिया तूने सहारा है,
बचपन से सुना हमने,
मालिक तू हमारा है। 



लोरियों की जगह हम श्याम,
तेरे भजनो को सुनते थे,
सुन कर तेरे पर्चो को,
सपने येही भूनते थे,
हम को भी उबारोगे,
जैसे सबको उबारा है,
घर पे आई मुशीबत तो,
दिया तूने सहारा है,
बचपन से सुना हमने,
मालिक तू हमारा है। 





तूफ़ान जो नहीं आता,
हम खुद ही सम्बल जाते,
हारे के सहारे हो,
कैसे हम समज पाते,
डोली जब नाँव मेरी,
बन के आया किनारा है,
घर पे आई मुशीबत तो,
दिया तूने सहारा है,
बचपन से सुना हमने,
मालिक तू हमारा है। 



तुम हो या नहीं ये भी,
कहते हुए देखा है,
तुझे भक्तो की आँखों से,
बहते हुए देखा है,
जीत बन कर के आया तू,
जब भी 'राज' हारा है,
घर पे आई मुशीबत तो,
दिया तूने सहारा है,
बचपन से सुना हमने,
मालिक तू हमारा है। 





बचपन से सुना हमने,
मालिक तू हमारा है,
घर पे आई मुशीबत तो,
दिया तूने सहारा है,
बचपन से सुना हमने,
मालिक तू हमारा है।


0/Post a Comment/Comments

और नया पुराने