लिरिक्स - चालो चालो खाटू धाम जहाँ विराजे बाबा श्याम Chalo Chalo Khatu Dham Jahan Viraje Baba Shyam Lyrics

चालो चालो खाटू धाम जहाँ विराजे बाबा श्याम



Singer - Sanjay Mittal Ji

Lyrics Track - Chalo Chalo Khatu Dham Jahan Viraje Baba Shyam



चालो चालो खाटू धाम,
जहाँ विराजे बाबा श्याम,
बनता बिगड़ा हुआ हर काम,
चालो खाटू जी चलो खाटू जी। 


जय जय खाटू धाम,
जय जय बाबा शाम,
जय जय खाटू धाम,
जय जय बाबा शाम। 




ऊंचे निचे रेत के टीले,
दूर से दीखते निशान रंगीले,
केसरियां और पीले पीले,
चालो खाटू जी,
जाकर एक निशान उठा लो,
बाबा श्याम की किरपा पा लो,
अपने सोये भाग जगा लो,
चालो खाटू जी चलो खाटू जी।


जय जय खाटू धाम,
जय जय बाबा शाम,
जय जय खाटू धाम,
जय जय बाबा शाम। 


मंदिर श्याम का लागे प्यारा,
जैसे अंधकार में तारा,
बहती जहाँ प्रेम की धारा,
चालो खाटू जी,
रत्न सिंघासन श्याम विराजे,
अंजनी काला संग साजे,
ढोलक शंख नगाड़ा बाजे,
चालो खाटू जी,
चालो खाटू जी चलो खाटू जी। 


जय जय खाटू धाम,
जय जय बाबा शाम,
जय जय खाटू धाम,
जय जय बाबा शाम। 




प्रकटी जहाँ से मूरत प्यारी,
है उस कुंड की महिमा न्यारी,
उमड़े जहाँ में दुनिया सारी चालो खाटू जी,
देखो कुंड बना मन भावन,
जल है गंगा जल सा पावन,
बरसे श्याम किरपा का सावन,
चालो खाटू जी,
चालो खाटू जी चलो खाटू जी। 


जय जय खाटू धाम,
जय जय बाबा शाम,
जय जय खाटू धाम,
जय जय बाबा शाम। 


बाबा चमत्कार दिखलाये,
मरधर में भी फूल खिलाये,
जगह वो श्याम बगीजी काहे,
चालो खाटू जी,
लखदातार की सेवा पाई,
अल्लू सिंह जी ने जिसे सजाई,
उनके भाग बड़े थे बाई,
चालो खाटू जी,
चालो खाटू जी चलो खाटू जी। 


जय जय खाटू धाम,
जय जय बाबा शाम,
जय जय खाटू धाम,
जय जय बाबा शाम। 


कलयुग का ये देव काहे,
बाबा साँचा न आए चुकाए,
इक पल की न देर लगाए,
चलो खाटू जी,
सेवक रंग गुलाल उड़ाए,
सूरज चंदा आरती गाये,
बाबा दोनों हाथ लुटाये,
चालो खाटू जी,
चालो खाटू जी चलो खाटू जी। 




जय जय खाटू धाम,
जय जय बाबा शाम,
जय जय खाटू धाम,
जय जय बाबा शाम। 


चालो चालो खाटू धाम,
जहाँ विराजे बाबा श्याम.
बनता बिगड़ा हुआ हर काम,
चालो खाटू जी चलो खाटू जी।

0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने