लिरिक्स : काहे घबराता है दिल और काहे उदास है Kahe Ghabrata Hai Dil Kahe Udaas Hai Lyrics

काहे घबराता है दिल और काहे उदास है

Singer - Pramod Tripathi

Lyrics Track - Kahe Ghabrata Hai Dil Kahe Udaas Hai




और काहे उदास है,
मुरलीधर मनमोहन,
दिल तेरे पास है,
काहे घबराता है दिल,
और काहे उदास है। 



ढूंढने की उसको क्या है दरकार,
सामने खड़ा है तेरा श्याम सरकार,
काहे को पुकारता है जोर जोर से,
खींचता नहीं क्यों इसे प्रेम डोर से,
छोटी सी प्रेम कुटिया मैं,
इसका निवास है,
काहे घबराता है दिल,
और काहे उदास है। 



सांवला कन्हैया तुझे देख रहा,
बात कैसे करूँ यही सोच रहा,
तू तो तेरे दुःख से परेशान है,
श्याम की तरफ तेरा नहीं ध्यान है,
तू भी निरास है यहाँ,
वो भी निरास है,
काहे घबराता है दिल,
और काहे उदास है। 



सांवला कन्हैया तेरे साथ साथ है,
बनवारी डरने की क्या बात है,
श्याम का भजन दिन रात किये जा,
साथ तेरा देगा इसे याद किये जा,
निकले ज़ुबान से श्याम श्याम,
जब तक ये साँस है,
काहे घबराता है दिल,
और काहे उदास है। 




काहे घबराता है दिल,
और काहे उदास है,
मुरलीधर मनमोहन,
दिल तेरे पास है,
काहे घबराता है दिल,
और काहे उदास है।


0/Post a Comment/Comments

और नया पुराने