लिरिक्स : खाटू में मोरनी बनके मैं तो छम छम नाचूं Khatu Me Morni Banke Mein To Chham Chham Nachu Liyrics

खाटू में मोरनी बनके मैं तो छम छम नाचूं

Singer - Sanjeev Sharma

Liyrics Track - Khatu Me Morni Banke Mein To Chham Chham Nachu




खाटू में मोरनी बनके,
मैं तो छम छम नाचूं,
सांवरिया तेरी याद में,
जोगन मैं गाऊं,
खाटू में मोरनी बनके,
मैं तो छम छम नाचूं। 



खाटू की गलियों में,
श्री श्याम की,
जलती है ज्योति,
बिन मौसम के,
बाबा अमृत की,
है वर्षा होती,
प्रेमी बन,
जो कोई है आता यहाँ 
आकर के,
भूल गया वो सारा जहाँ,
खाटू में मोरनी बनके,
मैं तो छम छम नाचूं,
सांवरिया तेरी याद में,
जोगन मैं गाऊं। 



तुम इतनी कृपा करना,
खाटू बुलाते रहना,
बन मांझी नैया को,
भाव पार लगाते रहना, 
हारे का साथी है,
कहता ये जहान,
हमने भी मान लिया,
आकर के यहाँ,
खाटू में मोरनी बनके,
मैं तो छम छम नाचूं,
सांवरिया तेरी याद में,
जोगन मैं गाऊं। 



आओ कभी घर बाबा,
भक्ति का है ये मौसम,
तेरे बिना सूना है,
'संजीव' के मन का दर्पण,
इक सपना,
लगता है आना तेरा 
सावरिया तुम आओगे,
कहता दिल मेरा,
खाटू में मोरनी बनके,
मैं तो छम छम नाचूं,
सांवरिया तेरी याद में,
जोगन मैं गाऊं। 




खाटू में मोरनी बनके,
मैं तो छम छम नाचूं,
सांवरिया तेरी याद में,
जोगन मैं गाऊं,
खाटू में मोरनी बनके,
मैं तो छम छम नाचूं।


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने