लिरिक्स : सर पे दोनों हाथ फेर दे तेरा की घट जावेगा Sar Pe Dono Hath Pher De Tera Ki Ghat Jawega Lyrics

सर पे दोनों हाथ फेर दे तेरा की घट जावेगा

Singer - shubham Rupam

Lyrics track - Sar Pe Dono Hath Pher De Tera Ki Ghat Jawega





सिर पे दोनों हाथ फेर दे,
तेरा की घट जावेगा,
तेरा कुछ न बिगड़ेगा,
तेरा टाबरियां तर जावेगा,
सर पे दोनों हाथ फेर दे,
तेरा की घट जावेगा। 



कब से द्वार खड़्या हां थारे,
म्हारी ओर निहारो जी,
कोई नहीं है संगी साथी,
थारो एक सहारो जी,
श्री चरणा की सेवा दे द्यो,
भव सागर तीर जावेगा,
सर पे दोनों हाथ फेर दे,
तेरा की घट जावेगा। 



'शुभम रूपम' के इतनी अर्जी,
भूल से मत न जाज्यो जी,
जद भी कोई आफत आवे,
दौड़ाया दौड़ाया आजो जी,
एक नजर म्हारे पे कर द्यो,
जन्म जन्म गुण गावांगा,
सर पे दोनों हाथ फेर दे,
तेरा की घट जावेगा। 





सिर पे दोनों हाथ फेर दे,
तेरा की घट जावेगा,
तेरा कुछ न बिगड़ेगा,
तेरा टाबरियां तर जावेगा,
सर पे दोनों हाथ फेर दे,
तेरा की घट जावेगा। 


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने