लिरिक्स - शरण गोपाल की रहकर मुझे किस बात की चिंता Sharan Gopal Ki Rahkar Mhuje Kis Baat Ki Chinta lyrics

शरण गोपाल की रहकर मुझे किस बात की चिंता

Singer - Anjali Dwivedi Ji

lyrics Track - Sharan Gopal Ki Rahkar Mhuje Kis Baat Ki Chinta





शरण गोपाल की रहकर,
 मुझे किस बात की चिंता,
शरण गोपाल की रहकर,
तुझे किस बात की चिंता,
तू कर चिंतन मगन मन से,
ना कर दिन रात की चिंता,
शरण गोपाल की रह कर,
तुझे किस बात की चिंता। 



हुआ था जन्म जब तेरा,
दिया था दूध आँचल में,
किया यदि श्याम को भोजन,
ना कर प्रभात की चिंता,
शरण गोपाल की रह कर,
तुझे किस बात की चिंता। 



वो देते जल के जीवों को,
वो देते थल के जीवों को,
वो देते नव के जीवों को,
उससे हर जीव की चिंता,
शरण गोपाल की रह कर,
तुझे किस बात की चिंता। 



सहारा लेके गिरधर का,
आस क्यों करता लोगो की,
हाथ प्रेमी वही फैला,
जिसे हर हाथ की चिंता,
शरण गोपाल की रह कर,
तुझे किस बात की चिंता। 



'अंजलि' कर सुमन लेके,
किया अर्पण प्रभु जीवन,
दर्श शबरी ने पाया था,
करी रघुनाथ की चिंता,
शरण गोपाल की रह कर,
तुझे किस बात की चिंता। 





शरण गोपाल की रहकर,
 मुझे किस बात की चिंता,
शरण गोपाल की रहकर,
तुझे किस बात की चिंता,
तू कर चिंतन मगन मन से,
ना कर दिन रात की चिंता,
शरण गोपाल की रह कर,
तुझे किस बात की चिंता। 


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने