लिरिक्स - श्री रामजी की सेना चली Shree Ram Ji Ki Sena Chali Lyrics

लिरिक्स - श्री रामजी की सेना चली

Singer - Ravindra Jain

Lyrics Track - Shree Ram Ji Ki Sena Chali 




हर हर महादेव, हर हर महादेव,
जय भवानी, जय भवानी,
जय भवानी, जय भवानी,
पापियों के नाश को,
धर्मं के प्रकाश को,
श्री रामजी की सेना चली,
रामजी की सेना चली। 



पाप अनाचार में,
घोर अन्धकार में,
एक नई ज्योति जली,
श्री रामजी की सेना चली,
रामजी की सेना चली। 





निशिचर हीन करेंगे धरती,
यह प्रण है श्री राम का,
जब तक काम न पूरण होगा,
नाम नही विश्राम का,
उसे मिटानें चलें के जिसका,
मंत्र वयम रक्षाम का,
समय आ गया निकट राम और,
रावण के संग्राम का,
तीन लोक धन्य हैं,
देवता प्रसन्न हैं,
आज मनोकामना फली,
श्री रामजी की सेना चली,
रामजी की सेना चली। 





रामचन्द्रजी के संग लक्ष्मण,
कर में लेकर बाण चले,
लिए विजय विश्वास ह्रदय में,
संग वीर हनुमान चले,
सेना संग सुग्रीव, नील, नल,
अंगद छाती तान चले,
उसे बचाए कौन के जिसका,
वध कराने भगवान चले,
आगे रघुनाथ हैं,
वीर साथ साथ हैं
एक से एक बलि,
श्री रामजी की सेना चली,
रामजी की सेना चली। 


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने