लिरिक्स : हे श्याम गिरिवरधारी ओ लीले के असवारी hey shyam Girivardhari O Leele Ke Asavari Lyrics

हे श्याम गिरिवरधारी ओ लीले के असवारी

Singer - Shweta agarwal

Lyrics Track - hey shyam Girivardhari O Leele Ke Asavari


हाथो में है मोरछड़ी,
और एक हाथ निशान,
आई तेरे दर पे बाबा,
रख ले मेरा मान,
रख लो मेरी लाज प्रभुजी,
दीनानाथ बिहारी,
शरण पड़ी हूँ तेरी बाबा,
आज मैं दुखियारी
हे श्याम गिरिवरधारी,
ओ लीले के असवारी। 



श्याम के चर्चे सारे जग में,
सबने सुनी कहानी,
तुझसे ही तो रौशन होती,
मेरी ये ज़िंदगानी,
मैं तुझसे तू मुझसे करता,
है जो दिल की बातें,
झूठे इस संसार को क्या,
बताएं रिश्ते नाते,
हे श्याम गिरिवरधारी,
ओ लीले के असवारी। 





पर्चे तेरे पूजे दुनिया,
कलियुग के अवतारी,
खुद को खोकर तुझको पाया,
ओ बांकेबिहारी,
रोम रोम में तू ही बसा है,
किसको जाके दिखाऊं,
नैना बरसे नीर तो उसमे,,
तुझको ही मैं बहाऊँ,
हे श्याम गिरिवरधारी,
ओ लीले के असवारी। 



श्याम वैया जीवन नैया,
अटकी बीच भवर में,
पार लगा दो इसको कन्हैया,
तुझसे धीर धरे हैं
'श्वेता रौनक' अरज़ लगावे,
दरश दिखा दो मोहन,
भक्तों की विनती यही है,
कर दो नैना पावन,
हे श्याम गिरिवरधारी,
ओ लीले के असवारी।



हाथो में है मोरछड़ी,
और एक हाथ निशान,
आई तेरे दर पे बाबा,
रख ले मेरा मान,
रख लो मेरी लाज प्रभुजी,
दीनानाथ बिहारी,
शरण पड़ी हूँ तेरी बाबा,
आज मैं दुखियारी
हे श्याम गिरिवरधारी,
ओ लीले के असवारी।


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने