लिरिक्स : थारी मोरछड़ी लेहराओ जी Thari mor Chadi Lahrao ji Lyrics

थारी मोरछड़ी लेहराओ जी

Singer - Sanjay Mittal Ji

Lyrics Track - Thari mor Chadi Lahrao ji Lyrics





शरणागत की शाम बाबा,

लाज बचाओ जी,

थारी मोर छड़ी लेहराओ जी,

थारी मोर छड़ी लेहराओ जी। 



मझधार में बाबा,

अटकी पड़ी नैया,

थे बेड़ो पार करो,

लाखा ने तारया हो,

बेटे ने भूलयो क्यों,

प्रभु उपकार करो,

भटक्योड़ा श्याम आके,

राह दिखोओ जी,

थारी मोरछड़ी लहराये जी,

थारी मोर छड़ी लेहराओ जी। 





बर साँस बंद है,

तकदीर को तालो,

दयालु खोल दयो,

चरणा बिठा करके,

दो बोल मीठा सा,

मुख स्यु बोल दो,

टाबरिया के श्याम सिर पे,

हाथ फिराओ जी,

थारी मोरछड़ी लहराये जी,

थारी मोर छड़ी लेहराओ जी। 



हालात को मारयो,

दुखड़ा सु मैं हारयो,

मेरो उद्धार करो,

थारो सहारो है,

थारे 'हर्ष' ने इब तो,

धणी स्वीकार करो,

हरोड़या की श्याम थे ही,

जीत करोओ जी,

थारी मोरछड़ी लहराये जी,

थारी मोर छड़ी लेहराओ जी। 





शरणागत की शाम बाबा,

लाज बचाओ जी,

थारी मोर छड़ी लेहराओ जी,

थारी मोर छड़ी लेहराओ।


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने