लिरिक्स : अगर इस जहाँ में कोई गुरु ही ना होता Agar Is Jaha Me Koi Guru hi Na Hota Lyrics

अगर इस जहाँ में कोई गुरु ही ना होता

Singer - Pooja Paliwal

Lyrics Track - Agar Is Jaha Me Koi Guru hi Na Hota




कोई  काम दुनिया में,
शुरू ही ना होता,
अगर इस जहाँ में,
कोई गुरु ही ना होता,
अगर इस जहाँ में,
कोई गुरु ही ना होता।



गीता रामायण ने समझा दिया है,
सभी सार धर्मो का इसमें लिखा है,
गुरु ब्रम्हा विष्णु गुरु शिव होता है,
गुरु ब्रम्हा विष्णु गुरु शिव होता है,
अगर इस जहाँ में,
कोई गुरु ही ना होता।


प्रभु राम ने गुरु की महिमा को जाना,
 विश्वामित्र और वशिष्ठजी को माना,
मने जो गुरु को उसे दुःख ना होता,
मने जो गुरु को उसे दुःख ना होता,
अगर इस जहाँ में,
कोई गुरु ही ना होता।



सीता को गुरु मिली सती अनुसुइया,
दिया ज्ञान भक्ति का कुटिया में मैया,
पति की करो सेवा तो बड़ा सुख होता है,
पति की करो सेवा तो बड़ा सुख होता है,
अगर इस जहाँ में,
कोई गुरु ही ना होता।



कोई  काम दुनिया में,
शुरू ही ना होता,
अगर इस जहाँ में,
कोई गुरु ही ना होता,
अगर इस जहाँ में,
कोई गुरु ही ना होता।


0/Post a Comment/Comments

और नया पुराने