लिरिक्स : काल रात ने सुपणो आयो बाबो हेला मारे Kaal Raat Ne Supno Aayo Babo Hela Mare Lyrics

काल रात ने सुपणो आयो बाबो हेला मारे

Singer - Shyam Singh Chouhan

Lyrics Track - Kaal Raat Ne Supno Aayo Babo Hela Mare




काल रात ने सुपणो,
आयो बाबो हेला मारे, 
मंदिर में म्हारो मन नहीं लागे,
मनै ले चालो सागै। 



भगत म्हारा म्हाने याद करै,
है खाटू ना आ पावै,
हिवड़ो म्हारो भर-भर आव,
कुछ भी नहीं सुहावै। 



भाव भजन थारा चोखा लागै,
याद घणेरी आवै,
लीलो भी म्हारो छम-छम नाचै,
बिल्कुल ना रूक पावै।



राख भरोसो बाबो थारो,
था पर जान लुटावै,
बणीं ना कोई आफत ऐसी,
जो थानै भरमावै। 



आलूसिंह जी ने हिवडे में,
श्याम की लगन लगा दी,
भक्त के बिन भगवान नही है,
साँची बात बता दी। 




काल रात ने सुपणो,
आयो बाबो हेला मारे, 
मंदिर में म्हारो मन नहीं लागे,
मनै ले चालो सागै।


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने