लिरिक्स : कुछ पल तो निकालो बाबा के दरबार के लिये Kuch Pal To Nikalo Bhole Ke Darbar Ke Liye Lyrics

कुछ पल तो निकालो बाबा के दरबार के लिये

Singer - Saurabh Madhukar

Lyrics Track - Kuch Pal To Nikalo Bhole Ke Darbar Ke Liye




ये ज़िंदगी मिली है,
दिन चार के लिये,
कुछ पल तो निकालो,
भोले के दरबार के लिये। 



कई पुण्य किये होंगे जो,
ये मानव तन है पाया,
पर भूले गए भगवान को,
माया में मन भरमाया,
अब तक तो जीते आये,
है परिवार के लिये,
कुछ पल तो निकालो,
भोले के दरबार के लिये। 



तूने पाई पाई जोड़ी,
कोई कमी कही न छोड़ी,
पर संग में सुन ले तेरे,
ना जाये फूटी कोड़ी,
कुछ धर्म पुण्य तो जोड़ो,
उस पार के लिये,
कुछ पल तो निकालो,
भोले के दरबार के लिये। 



ये जग है एक सराये,
कोई आये कोई जाये,
इस का दस्तूर पुराना,
कोई सदा ना टिकने वाला,
'गजेसिंह' शिवजी को भजलो,
उद्धार के लिए,
कुछ पल तो निकालो,
भोले के दरबार के लिये। 




ये ज़िंदगी मिली है,
दिन चार के लिये,
कुछ पल तो निकालो,
भोले के दरबार के लिये।


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने