लिरिक्स : लगन निकले नारद बाबा देख गौरी के हाथ Lagan Nikale Narad Baba Dekh Gauri ke Hath Lyrics

लगन निकले नारद बाबा देख गौरी के हाथ

Singer - Rupesh Choudhary

Lyrics Track - Lagan Nikale Narad Baba Dekh Gauri ke Hath




लगन निकले नारद बाबा,
देख गौरी के हाथ,
गौरी की शादी में,
भोले बाबा के साथ,
गौरी की शादी में,
भोले बाबा के साथ।



मुश्किल से दूल्हा हुए है राजी,
बीच में माने न गौरा की माँ जी,
मेरी बेटी कभी न देगी,
शिव के हाथ में हाथ,
गौरी की शादी में,
भोले बाबा के साथ,
गौरी की शादी में,
भोले बाबा के साथ।



अपने तो औघड़ भंगिया चबाये,
पार्वती को यहाँ भूखे सुलाए,
क्या खायेगी वहाँ पे गौरी,
पके न रोटी भात,
गौरी की शादी में,
भोले बाबा के साथ,
गौरी की शादी में,
भोले बाबा के साथ।



जीवन भर गौरी भंग पिसेगी,
फुटि किस्मत पे अपनी माँ को कोसेगी,
मर जाएगी साथ में इनके,
हो जाऊंगी अनाथ,
गौरी की शादी में,
भोले बाबा के साथ,
गौरी की शादी में,
भोले बाबा के साथ।



शिव ने जब सुन्दर रूप बनाया,
तब जाके दूल्हा को मण्डप में लाया,
'फणी' भक्त सब नाचो गाओ,
जब जब हो शिव रात,
गौरी की शादी में,
भोले बाबा के साथ,
गौरी की शादी में,
भोले बाबा के साथ।



लगन निकले नारद बाबा,
देख गौरी के हाथ,
गौरी की शादी में,
भोले बाबा के साथ,
गौरी की शादी में,
भोले बाबा के साथ।


0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने