लिरिक्स : खाटू की गलियों में घुमे Khatu Ki galiyon Me Ghume Lyrics

खाटू की गलियों में घुमे

Singer - Vijay Garg

Lyrics Track - Khatu Ki galiyon Me Ghume



खाटू की गलियों में घुमे,

सांवलियो सरकार,

ग्यारस के कीर्तन में जागे,

बाबो सारी रात,

पी का काम बनावे है,

सांचे मन से जो बाबा ने,

भजन सुनावे है,



जो जो ग्यारस बीती जावे,

खाटू नगरी सजती जावे,

श्याम भगत के इक दो जैसे,

होवे मुलाकात,

ग्यारस के कीर्तन में जागे,

बाबो सारी रात,

पी का काम बनावे है,

सांचे मन से जो बाबा ने,

भजन सुनावे है,



कीर्तन में जो भी रम जावे,

दुखडा सगला ही कट जावे,

कौन जाने के पर हो जावे,

कृपा की बरसात,

ग्यारस के कीर्तन में जागे,

बाबो सारी रात,

पी का काम बनावे है,

सांचे मन से जो बाबा ने,

भजन सुनावे है,



मंगला में सब मंगल होवे,

पाछा जाता सगला रोवे,

घड़ी जुदाई के जद आवे,

मनड़ो होवे उदास,

लाड़ो बोले सागे चालो,

गाल गले में बात,

पी का काम बनावे है,

सांचे मन से जो बाबा ने,

भजन सुनावे है,



खाटू की गलियों में घुमे,

सांवलियो सरकार,

ग्यारस के कीर्तन में जागे,

बाबो सारी रात,

पी का काम बनावे है,

सांचे मन से जो बाबा ने,

भजन सुनावे है,



0/Post a Comment/Comments

नया पेज पुराने